Mere Dushman Lyrics - Aye Din Bahar Ke - Only on JioSaavn
What kind of music do you
want to listen to?

You have 5 of 5 Songs left.

Listen with no limits on the JioSaavn app.

I Have JioSaavn
  1. Mere Dushman

    Aye Din Bahar Ke

    5:14

    {"url":"ID2ieOjCrwfgWvL5sXl4B1ImC5QfbsDyEJDvdQpynOzFmwKd31EQiiXw0Fki+Wjbx9iQZfKTCbW+lF6DDc6OwRw7tS9a8Gtq","pid":"E-inr87F","length":"314"}
  2. Mere Dushman Song Lyrics

    मेरे दिल से सितम गर
    तूने अच्छी दिल्लगी की हे
    के बन के दोस्त अपने दोस्तों से
    दुश्मनी की हे
    मेरे दुश्मन तू मेरी
    दोस्ती की को तरसे
    मेरे दुश्मन तू मेरी दोस्ती को तरसे
    मुझे ग़म देने वाले तू ख़ुशी को तरसे
    मेरे दुश्मन
    तू फूल बने पतझड़ का तुझपे बहार ना आये कभी
    मेरी ही तरह तू तड़पे तुझको करार ना आये कभी
    तुझको करार ना आये कभी
    जिए तू इस तरह के
    जिंदगी को तरसे
    मेरे दुश्मन तू मेरी दोस्ती को तरसे
    इतना तो असर कर जाये
    मेरी वफाये ओ बेवफा
    एक रोज तुझे याद आये
    अपनी जफ़ाए ओ बेवफा
    अपनी जफ़ाए ओ बेवफा
    पशेमाँ हो के रोये
    तू हंसी को तरसे
    मेरे दुश्मन तू मेरी दोस्ती को तरसे
    मेरे दुश्मन
    तेरे गुलशन से जियादा
    वीरान कोई वीराना ना हो
    इस दुनिया में कोई तेरा अपना तो क्या
    बेगाना ना हो
    अपना तो क्या बेगाना ना हो
    किसी का प्यार क्या तू
    बेरुखी को तरसे
    मेरे दुश्मन तू मेरी दोस्ती को तरसे
    मुझे ग़म देने वाले तू ख़ुशी को तरसे
    मेरे दुश्मन

    Writer(s): LAXMIKANT PYARELAL, ANAND BAKSHI, PYARELAL LAXMIKANT
    Lyrics powered by www.musixmatch.com

    Artists

    1. Mohammed Rafi

      Singer

    2. Laxmikant - Pyarelal

      Music Director

    3. Anand Bakshi

      Lyricist