Bandhan Title Song Sad Version

Bandhan Title Song Sad Version Lyrics

Bandhan  by Kumar Sanu

Song   ·  271,053 Plays  ·  3:50  ·  Hindi

© 1998 Venus Music Pvt. Ltd.

Bandhan Title Song Sad Version Lyrics

जो रिश्ते थे बनाएँ, वो टूट गए क्यूँ? हाए
बेगाने तो बेगाने, अपने भी हुए पराए
बेगाने तो बेगाने, अपने भी हुए पराए

दिल के टुकड़े हो जाते हैं
जब अपने हैं ठुकराते

(ये बंधन दिलों के बंधन)
(ये नाते दिलों के नाते)
तय होते हैं अंबर पे
क्यूँ धरती पे तोड़े जाते?

(बंधन, ये बंधन)
(बंधन, ये बंधन)

कैसी हैं ये क़समें? कैसे हैं ये बंधन?
बेटी ना करने पाए बाबुल के अंतिम दर्शन
बेटी ना करने पाए बाबुल के अंतिम दर्शन

दुनिया से जाने वाले फिर
लौट के नहीं हैं आते

(ये बंधन दिलों के बंधन)
(ये नाते दिलों के नाते)
(तय होते हैं अंबर पे)
(धरती पे जोड़े जाते)

(बंधन, ये बंधन)
(बंधन, ये बंधन)

Writer(s): Anand Raj Anand, Rajesh Malik<br>Lyrics powered by www.musixmatch.com


More from Bandhan

Loading

You Might Like

Loading


3m 50s  ·  Hindi

© 1998 Venus Music Pvt. Ltd.


FAQs for Bandhan Title Song Sad Version